Hindisuccessstories.com

Motivational stories

क्यूँ कहा जाता है इन्हें Indian Cricket team की रन मशीन ।-Story of Virat kohli

Intro

विराट कोहली एक भारतीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर हैं, जिन्हें भारत के शीर्ष खिलाड़ियों में गिना जाता है। वर्तमान युग में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक के रूप में माने जाते हैं और वह एक दाएं हाथ के मध्यम गति के तेज गेंदबाज भी हैं ।वह अपनी भरोसेमंद और शक्तिशाली बल्लेबाजी शैली के लिए जाने जाते हैं और उन्होंने भारत के लिए कई मैच जीते हैं।

उनको उनकी पहली बड़ी सफलता 2008 में मिली जब उन्होंने 2008 के अंडर -19 विश्व कप में जीत के लिए भारत अंडर -19 की कप्तानी की। जल्द ही उन्हें भारतीय टीम के लिए खेलने के लिए चुना गया और उन्होंने खुद को एक मूल्यवान मध्य क्रम के खिलाड़ी के रूप में स्थापित किया।आज वह क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान हैं और कई रिकॉर्ड वह अपने नाम कर चुके हैं । आइए जानते हैं उनके बारे में।-

Early life & Starting days of Cricket

विराट कोहली का जन्म 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम प्रेम कोहली जो कि एक अपराधिक वकील थे और माता का नाम सरोज कोहली जो कि एक गृहिणी है। उनका एक बड़ा भाई जिसका नाम विकास कोहली है और एक बड़ी बहन जिसका नाम भावना कोहली है। विराट अपने जीवन में काफी पहले ही क्रिकेट से रोमांचित हो गए और उनके परिवार के अनुसार जब कोहली 3 साल के थे तभी उन्होंने क्रिकेट बैट हात में ले ली थी और अपने पिता को बोलिंग करने कहा करते थे । उनके माता-पिता ने उनकी क्षमता को पहचाना और उन्हें नौ साल की उम्र में पश्चिम दिल्ली क्रिकेट अकादमी में दाखिला दिलाया। कोहली के पिता ने तभी कोहली को अकादमी में शामिल किया जब उनके पडोसी ने उनसे कहा की, “विराट को गल्ली क्रिकेट में समय व्यर्थ नही करना चाहिये बल्कि उसे किसी अकादमी में व्यावसायिक रूप से क्रिकेट सीखना चाहिये।”

कोहली उत्तम नगर में बड़े हुए और उन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा विशाल भारती पब्लिक स्कूल से प्राप्त की। कोहली पढाई में भी अच्छे थे, उनके शिक्षक उन्हें, “एक होनहार और बुद्धिमान बच्चा बताते है।”

राज कुमार शर्मा के हातो कोहली ने प्रशिक्षण लिया और सुमित डोगरा अकादमी में मैच भी खेला। 9 वी कक्षा में उन्हें सविएर कान्वेंट में डाला गया ताकि उन्हें क्रिकेट प्रशिक्षण में मदद मिल सके।

वर्ष 2003 में, कोच राजकुमार शर्मा ने आशीष नेहरा को अपनी अकादमी में आमंत्रित किया। जहाँ उन्होंने विराट कोहली को सम्मानित किया क्योंकि उनके द्वारा वर्ष 2002-2003 की पॉल उमरीगर ट्रॉफी में 34.40 की औसत से सर्वाधिक 172 रन बनाए गए थे। 

वर्ष 2004 के अंत तक उन्हें Under 17 Delhi Cricket Team का सदस्य बना दिया गया था जब उनको  Vijay Merchant Trophy के लिए खेलना था | इस चार मैचो की सीरीज में उन्होंने 450 से ज्यादा रन बनाये थे और उन्होंने एक मैच में तो 251 रन नाबाद बनाये थे | अगले साल की  Vijay Merchant Trophy में तो वो सुर्खियों में आ गये थे | इस बार उन्होंने 7 मैचो में 757 रन बनाकर सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था |  इस टूर्नामेंट में विराट कोहली विराट ने 84.11 की औसत से रन बनाये थे जिसमे से 2 शतक भी शामिल थे |

जुलाई 2006 में विराट कोहली विराट कोहली को भारत की Under-19 Cricket खिलाडियों में चुन लिया गया और उनका पहला विदेशे टूर इंग्लैंड था | इस इंग्लैंड टूर में उन्होंने तीन एकदिवसीय मैचो में 105 रन बनाये थे | इसी टूर में तीन टेस्ट मैचो में उन्होंने 49 रन की औसत से रन बनाये थे | भारत उस वर्ष दोनों सीरीज जीतकर लौटा था | इसी साल बाद में विराट ने Under-19 Cricket में पाकिस्तान के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया था | इसके बाद उनकी प्रतिभा को देखते हुए Under-19 Cricket में विराट को एक स्थाई खिलाड़ी के रूप में रख लिया गया |

Father’s Death

18 दिसम्बर 2006 को ब्रेन स्ट्रोक की वजह से उनके पिता की मृत्यु हो गयी। जब उनके पिता की मृत्यु हुई तब उन्हें अगले ही दिन कर्नाटक के ख़िलाफ़ मैच खेलना था उस मैच में उन्होंने 90 रन की पारी खेली और तुरंत ही दिल्ली के लिए रवाना हो गए ।अपने प्रारंभिक जीवन को याद करते हुए कोहली एक साक्षात्कार में बताते है की, “मैंने अपने जीवन में बहोत कुछ देखा। मैंने युवा दिनों में ही अपने पिता को खो दिया, जिससे पारिवारिक व्यापार भी डगमगा गया था, इस वजह से मुझे किराये की रूम में भी रहना पड़ा।

Career debut

वह रणजी ट्रॉफी मैच में कर्नाटक के खिलाफ दिल्ली के लिए खेलने के बाद से सुर्खियों में आए थे। टीम के कप्तान के रूप में कोहली ने मलेशिया में आयोजित 2008 में Under19 क्रिकेट विश्व कप में टीम को जीत दिलाई। टूर्नामेंट के दौरान कई अहम गेंदबाजी परिवर्तन करने के लिए उनकी बहुत प्रशंसा हुई । इसके बाद, उन्हें IPL की फ्रैंचाइज़ी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर द्वारा एक युवा अनुबंध पर खरीदा गया। 2008 में उनके IPL के पहले सीज़न में प्रदर्शन के बाद उनके Career में तेजी से सुधार हुआ है।और विराट कोहली ने 2008 में आइडिया कप में श्रीलंका के खिलाफ अपने पहले वन डे इंटरनेशनल से career की शुरुआत की। उन्होंने series के चौथे मैच में अपना पहला अर्धशतक जमाया ओर 54 रन बनाए और भारत को श्रृंखला जीताने में मदद की। यह श्रीलंका में श्रीलंका के खिलाफ भारत की पहली एक दिवसीय श्रृंखला जीत भी थी। उन्होंने 2009 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में खेला और 4 वें वनडे में खेलने का मौका मिला, जब दिसंबर 2009 में श्रीलंका ने भारत का दौरा किया। उन्होंने अपना पहला एकदिवसीय शतक बनाया, जिससे भारत ने श्रृंखला 3-1 से जीत ली। जून 2010 में, विराट को जिम्बाब्वे और श्रीलंका के खिलाफ त्रिकोणीय श्रृंखला के लिए भारत का उप-कप्तान घोषित किया गया ।वह इस श्रृंखला में एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले भारतीय बन गए। 2010 में, वह 995 रनों के साथ भारत के प्रमुख रन-स्कोरर थे, जिसमें 25 मैचों में 3 शतक शामिल थे, जिसमें 47.38 की औसत से 25 शतक थे।

2011 के Cricket world cup में सुरेश रैना से ऊपर विराट कोहली को चुना गया और वह विश्व कप में पदार्पण में शतक बनाने वाले पहले भारतीय बने।और उनके सहयोग से भारत ने यह wolrld cup जीत भी लिया ।1 जनवरी 2009 और 1 सितंबर 2011 के बीच, वह एकदिवसीय मैचों में 47.47 की औसत से 1,994 रन के साथ भारत के दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। कोहली ने अगस्त 2012 में भारत-श्रीलंका श्रृंखला की समाप्ति के बाद एकदिवसीय बल्लेबाजों के लिए ICC प्लेयर रैंकिंग में अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ दूसरा स्थान प्राप्त किया। कोलंबो, श्रीलंका में ICC वार्षिक पुरस्कार समारोह में उन्हें ‘ODI क्रिकेटर ऑफ द ईयर’ नामित किया गया। ।

उन्हें 2012 में एकदिवसीय टीम का उप-कप्तान नियुक्त किया गया था। तब से उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी की अनुपस्थिति में कई बार टीम की कप्तानी की ।टेस्ट से धोनी के 2014 में संन्यास की घोषणा के बाद उन्हें टेस्ट टीम की कप्तानी सौंपी गई थी। उसके बाद 2017 में उन्हें ODI team की कप्तानी भी सौंप दी गई ।

Records

1.विश्व कप डेब्यू (2011) में शतक बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी।

2. 22 साल की उम्र में लगातार दो वनडे (एकदिवसीय) मैचों में शतक लगाने वाले तीसरे भारतीय खिलाडी (सचिन तेंदुलकर व सुरेश रैना के बाद) ।

3. वनडे (ODI) क्रिकेट में सबसे तेज 1000, 3000, 4000 और 5000 रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी।

4. भारतीय खिलाडियों में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाडी (वर्ष 2013 में जयपुर, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 52 गेंदों में)

5. लगातार 25 वनडे (एकदिवसीय) मैचों में सबसे तेज रन बनाने वाले खिलाडी।

6. वनडे(ODI) मैचों में सबसे तेज 7,500 रन।

7. डॉन ब्रैडमैन और रिकी पोंटिंग के बाद तीसरे खिलाडी हैं जिन्होंने तिहरा शतक बनाया।

8. डॉन ब्रैडमैन, ग्रीम स्मिथ, और माइकल क्लार्क की तरह चार दोहरे शतकों का रिकॉर्ड बनाया।

10. पहले भारतीय कप्तान जिन्होंने एक वर्ष में नौ टेस्ट मैचों में जीत दर्ज़ की।

11. पहले भारतीय कप्तान जिन्होंने पाँच टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज़ की।

12. राहुल द्रविड़ के बाद विराट कोहली पहले भारतीय खिलाड़ी हैं जिन्होंने एक वर्ष में टेस्ट मैचों में 1000 से भी अधिक रन बनाए हैं। राहुल द्रविड़ ने वर्ष 2011 में 1145 रन बनाए थे। ।

13. टेस्ट मैच में सर्वाधिक 235 रन बनाने वाले भारतीय कप्तान हैं।

14. पहले भारतीय टेस्ट कप्तान जिन्होंने विदेशी सरजमीं पर दोहरे शतक बनाए।

15. आईपीएल के एक सीजन में सर्वाधिक रन (आईपीएल 9 में 973 रन)

रनों के कई Records अपने नाम करने के लिए उन्हें Indian cricket team में Run-machine के नाम से भी पुकारा जाता है बहुत सारे Records वह तोड़ चुके हैं जिनके कारण बहुत सारे Awards से उन्हें नवाज़ा गया है ।

Awards

1. उन्होंने 2012 में “आईसीसी (एकदिवसीय) वनडे” प्लेयर ऑफ द इयर का पुरस्कार जीता।

2. उन्हें 2013 में अच्छे प्रदर्शन के लिए अर्जुन अवार्ड दिया गया ।

3. उन्हें 2017 में पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया गया ।

4. 2018 में उन्हें Sir Garfeild sobers trophy से नवाज़ा गया ।

5. 2019 में वह Wisden cricketers of the year भी रहे ।

इनके अलावा, कोहली को टेस्ट क्रिकेट में मैन ऑफ़ द मैच ’पुरस्कार जैसे कई अन्य पुरस्कार मिले हैं; वनडे क्रिकेट में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार; ‘मैन ऑफ द सीरीज’ पुरस्कार; ‘टी 20 क्रिकेट में मैन ऑफ द मैच ‘का पुरस्कार, और कई अन्य Awards मिल चुके हैं ।

Personal life & Marriage

विराट कोहली बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के साथ एक हाई प्रोफाइल रिश्ते में थे। कथित तौर पर 2016 की शुरुआत में यह जोड़ी टूट गई, लेकिन बाद में इनका पैच अप हो गया और एक साथ रिश्ते में वापस आ गए।

विराट और अनुष्का शर्मा ने 11 दिसंबर, 2017 को शादी की। दोनों Italy के Tuscany में Borgo Finocchieto में शादी के बंधन में बंध गए।

विराट और अनुष्का (Virushka)की शादी एक बहुत ही निजी मामला था और शादी से कुछ दिन पहले तक किसी को भी शादी का पता नहीं था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वेडिंग में शामिल सभी लोग जिनमें फोटोग्राफर्स, कैटरर्स और होटल स्टाफ शामिल थे, जो कि एक Non disclosure agreement से बंधे थे ।

Tattoos

वह टैटू प्रेमी भी हैं और उनके टैटू की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। उनके बाएं कंधे पर सबसे पहले “ईश्वर की आँख” है जो शक्ति का प्रतीक है जो अज्ञात है। अपने बाएं कंधे पर दूसरा टैटू “जापानी सामुराई योद्धा” का है जो आत्म-अनुशासन और सम्मान, नैतिक व्यवहार के प्रति निष्ठा से जीवन जीने का प्रतीक है। अपने बाएं हाथ पर तीसरा टैटू मठ का है जो शांति और शक्ति के स्थान का प्रतीक है उनके बाएं बाजू पर जो चौथा टैटू है उसमें भगवान शिव कैलाश पर्वत पर ध्यान मुद्रा में है। उन्होंने अपने दाहिने कंधे पर पाँचवा टैटू “बिच्छु” बनवाया है जो उनकी राशि चिन्ह पर आधारित है। 

Networth

आज 2020 में उनकी सारी Endorsements,salary और मैचों की फ़ीस मिलाकर कुल सम्पत्ति लगभग 93 million dollar है । भारतीय कप्तान विराट कोहली दुनिया की अमीर हस्तियों में से एक हैं। वे अपनी आक्रामक शैली से न सिर्फ क्रिकेट में नित नए कीर्तमान स्थापित कर रहे हैं, बल्कि व्यावसायिक क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं। इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि रन-मशीन दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेटर हैं। उनकी विशाल नेटवर्थ इस बात की पुष्टि भी करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *